Power full Sunny Deol dialogue In Hindi – सनी देओल डायलॉग

Power full Sunny Deol dialogue In Hindi – सनी देओल डायलॉग

सनी देओल (Sunny Deol) मतलब वो आग का गोला जो जिस भी फिल्म में आया अपने जोशीले डायलॉग से फिल्मी पर्दे आग लगा दी थी और आज भी जब भी एक्शन फिल्मों और दमदार डायलॉग की बात की जाती है तो सबसे पहले नाम शायद धर्मेन्द्र का आए और धर्मेन्द्र के बाद उनकी जगह ली है उनके बेटे सन्नी देओल ने. सनी देओल (Sunny Deol) हिन्दी सिनेमा को बहुत कुछ दिया है दमदार एक्शन हीरो की छवि को बनाया और बखूबी निभाया भी उसे. लेकिन ऐसा नहीं है कि सन्नी देओल (Sunny Deol) मात्र एक एक्शन हीरो हैं. उनके के बाद अगर एंग्री मेन की बात करे तो दबंग का नंबर आता है लेकिन सनी देओल (Sunny Deol) का कोई मुकबला नही है तो आइये आज हम आप को बताते सनी देओल के कुछ वो चुनिन्दा डायलॉग जो किसी के भी तन-मन में आग लगा सकते हैं

दामिनी, घायल जीत और गदर जैसी फिल्मों के माध्यम से सन्नी देओल (Sunny Deol) ने खुद को हिन्दी सिनेमा में एक एक्शन हीरो की तरह पेश किया है. उनकी दमदार एक्शन फिल्मों की सबसे बड़ी खासियत रही उनके दमदार डायलॉग जो आज भी लोगो जुबान और सर चढ़ कर बोलते है.

Sunny Deol Famous dialogue In Hindi

1. Sunny Deol dialogue In Gadar : Ek Prem Katha
अशरफ अली! आपका पाकिस्तान ज़िंदाबाद है, इससे हमें कोई ऐतराज़ नहीं लेकिन हमारा हिंदुस्तान ज़िंदाबाद है, ज़िंदाबाद था और ज़िंदाबाद रहेगा! बस बहुत हो गया

2. Sunny Deol dialogue In Jeet
तुम मेरी हो काजल सिर्फ मेरी, इन हाथों ने हथियार छोड़े हैं उन्हें चलाना नहीं भूले हैं अगर इस चौखट पर बारात आई तो डोली की जगह अर्थिया उठेंगी लाशें बिछा दूंगा लाशें

3. Sunny Deol dialogue In Gadar : Ek Prem Katha
अगर मैं अपने बीवी बच्चों के लिए सर झुका सकता हूँ तो मैं सबके सर काट भी सकता हूँ

4. Sunny Deol dialogue In Gadar : Ek Prem Katha
एक काग़ज़ पर मोहोर नही लगेगी तो क्या तारा पाकिस्तान नही जाएगा?

5. Sunny Deol dialogue In Damini
तारीख पर तारीख, तारीख पर तारीख, तारीख पर तारीख, तारीख पर तारीख मिलती रही है लेकिन इंसाफ़ नही मिला मी लॉर्ड, इंसाफ़ नही मिला मिली है तो सिर्फ़ यह तारीख

6. Sunny Deol dialogue In Jeedi
नहीं कुलकर्णी मैं तुमको यहां से जाने की इजाज़त नहीं दे सकता, मैं यहां ऊंचाई पर बैठा ज़रूर हूं, मगर इस कोर्ट के फैसले नीचे बैठे ये लोग करते हैं.

7. Sunny Deol dialogue In Jeet
नहीं! तुम सिर्फ मेरी हो, और किसी की नहीं हो सकती. हम दोनों के बीच अगर कोई आया तो समझो वो मर गया. काजल! इन हाथों ने सिर्फ हथियार छोड़े हैं, चलाना नहीं भूले. अगर इस चौखट पर बारात आई तो डोली की जगह उनकी अर्थियां उठेंगी और सबसे पहले अर्थी उसकी उठेगी जिसके सर पर सेहरा होगा. लाशें बिछा दूंगा, लाशें!

8. Sunny Deol dialogue In Damini
चड्‌ढा, समझाओ.. इसे समझाओ. ऐसे ख़िलौने बाज़ार में बहुत बिकते हैं, मगर इसे खेलने के लिए जो जिगर चाहिए न, वो दुनिया के किसी बाज़ार में नहीं बिकता, मर्द उसे लेकर पैदा होता है. और जब ये ढाई किलो का हाथ किसी पर पड़ता है न तो आदमी उठता नहीं, उठ जाता है

9.Sunny Deol dialogue In Ghayal
रिश्वतखोरी और मकारी ने तुम लोगों के जिस्म में मा के दूध के असर को ख़तम कर दिया है

10.Sunny Deol dialogue In Gadar : Ek Prem Katha
बरसात से बचने की हैसियत नहीं और गोली बारी की बात कर रहे है आप लोग

11. Sunny Deol dialogue In Ghayal
झक मारती है पुलिस. उतारकर फेंक दो ये वर्दी और पहन लो बलवंतराय का पट्‌टा अपने गले में यू बा**र्ड. ऑन माई फुट, माई फुट! अंधेर नगरी है ये. बस. ऐसे गरीब, कमज़ोर लोगों पर दिखाओ अपनी मर्दानगी. वर्दी का रौब. इन्हीं हाथों को बांध सकती हैं तुम्हारी हथकड़ियां. बलवंतराय के नहीं. जाकर दुम हिलाना उसके सामने. तलवे चाटना. बोटियां फेंकेंगे बोटियां. अच्छा कर रहे हो इंस्पेक्टर, बहुत अच्छा कर रहे हो तुम. बहुत तरक्की मिलेगी तुम्हे, मेडल्स मिलेंगे. अरे भागकर कहां जा रहे हो बात सुनो मेरी! आई विल ड्रैग यू टू द कोर्ट यू बा**र्ड, यू आर गोना पे फॉर दिस.

12. Sunny Deol dialogue In Damini
हलक़ में हाथ डालकर कलेजा खींच लूंगा हरामख़ोर.. उठा उठा के पटकूंगा! उठा उठा के पटकूंगा! चीर दूंगा, फाड़ दूंगा साले!

13. Sunny Deol dialogue In Ghayal
अंधे बहरों का शहर है यह पत्थर है यह सब के सब यहाँ तो बस सरर फोड़ा जा सकता है पाँच बजे के बाद देव की अदालत शुरू होती है

14. Sunny Deol dialogue In Ghatak
डरा के लोगों को वो जीता है जिसकी हडि्डयों में पानी भरा हो. इतना ही मर्द बनने का शौक है न कात्या, तो इन कुत्तों का सहारा लेना छोड़ दे.

15. Sunny Deol dialogue In Jeedi
चिल्लाओ मत इंस्पेक्टर, ये देवा की अदालत है, और मेरी अदालत में अपराधियों को ऊंचा बोलने की इजाज़त नहीं.

16. Sunny Deol dialogue In Border
मथुरादास जी, आप ख़ुश हैं कि आप घर जा रहे हैं. मगर ख़ुशी का जो ये बेहूदा नाच आप अपने भाइयों के सामने कर रहे हैं.. अच्छा नहीं लगता. आपकी छुट्‌टी मंज़ूर हुई है क्योंकि आपके घर में प्रॉब्लम है. दुनिया में किसे प्रॉब्लम नहीं? ज़िंदगी का दूसरा नाम ही प्रॉब्लम है. बताओ! अपने भाइयों में कोई ऐसा भी है जिसकी विधवा मां आंखों से देख नहीं सकती और उसका इकलौता बेटा रेगिस्तान की धूल में खो गया है. कोई ऐसा भी है जिसकी मां की अस्थियां इंतजार कर रही हैं कि उसका बेटा जंग जीतकर आएगा और उन्हें गंगा में बहा देगा. किसी का बूढ़ा बाप अपनी ज़िंदगी की आखिरी घड़ियां गिन रहा है और हर रोज़ मौत को ये कहकर टाल देता है कि मेरी चिता को आग देने वाला, दूर बॉर्डर पर बैठा है. अगर इन सब ने अपनी प्रॉब्लम्स का बहाना देकर छुट्‌टी ले ली तो ये जंग कैसे जीती जाएगी? बताओ! मथुरादास.. इससे पहले कि मैं तुझे गद्दार क़रार देकर गोली मार दूं.. भाग जा यहां से.

17. Sunny Deol dialogue In Gadar : Ek Prem Katha
अगर आज ये जट्ट बिघड़ गया तो सहकदों को ले मरेगा

18. Sunny Deol dialogue In Ghatak
पिंजरे में आकर शेर भी कुत्ता बन जाता है कात्या. तू चाहता है मैं तेरे यहां कुत्ता बनकर रहूं. तू कहे तो काटूं, तू कहे तो भौंकू.

19. Sunny Deol dialogue In Gadar : Ek Prem Katha
बलि हमेशा बकरे की दी जाती है शेर की नही

20. Sunny Deol dialogue In Damini
मैदान में खुले शेर का सामना करोगे … तुम्हारे मर्द होने की ग़लतफमी डोर हो जाएगी

21. Sunny Deol dialogue In Ma tuje Salam
भून डालो दुश्मनों को, काट डालो इंसानों को, आज हम अपने खून से धोएंगे तेरे चरण, मां तुझे सलाम

22. Sunny Deol dialogue In Gadar
एक कागज पर मोहर नहीं लगेगी तो क्या तारा पाकिस्तान नहीं जाएगा?

23. Sunny Deol dialogue In Border
जिंदगी का दूसरा नाम प्रोब्लम है

24. Sunny Deol dialogue In Ghatak
ये मज़दूर का हाथ है कात्या, लोहा पिघलाकर उसका आकार बदल देता है! ये ताकत ख़ून-पसीने से कमाई हुई रोटी की है. मुझे किसी के टुकड़ों पर पलने की जरूरत नहीं

25. Sunny Deol dialogue In Jeet
क्या चाहता है? क्या चाहता है तू? मौत चाहता है? तेरे सारे कुत्तों को मैंने मार दिया, मगर वो राजू को कुछ नहीं कर सके, वो जिंदा है. तेरा कोई भी बारूद, कोई भी हथियार उसे मार नहीं सकता. आज के बाद तेरी हर सांस के पीछे मैं मौत बनकर खड़ा

26. Sunny Deol dialogue In Jeedi
तेरा गुनाहों का काला चिट्‌ठा मेरे पास है इंस्पेक्टर. तुझे कानून की ठेकेदारी का लाइसेंस मिले छह साल हुए, और उन छह सालों में तूने अपने लॉकअप में, पांच लोगों को बेहरमी से मौत के घाट उतार दिया.

27. Sunny Deol dialogue In Damini
चिल्लाओ मत, नहीं तो ये केस यहीं रफा-दफा कर दूंगा. न तारीख़ न सुनवाई, सीधा इंसाफ. वो भी ताबड़तोड़.

28. Sunny Deol dialogue In Jeedi
जिस वकील को मारने के लिए तूने अपने आदमी भेजे थे वो अशोक प्रधान.. देवा का बाप है. अगर दोबारा तूने ऐसी ग़लती की तो तेरा वो हश्र करूंगा कि तुझे अपने हाथों से अपनी ज़िंदगी फिसलती हुई नज़र आएगी

29. Sunny Deol dialogue In Ghatak
आ रहा हूं रुक, अगर सातों एक बाप के हो तो रुक, नहीं तो कसम गंगा मइय्या की, घर में घुस कर मारूंगा, सातों को साथ मारूंगा, एक साथ मारूंगा, अरे रूक!!

30. Sunny Deol dialogue In Ghayal
इस चोट को अपने दिल-ओ-दिमाग़ पर क़ायम रखना. कल यही आंसू क्रांति का सैलाब बनकर, इस मुल्क की सारी गंदगी को बहा ले जाएंगे.

31. Sunny Deol dialogue In Ghatak
समझाओ, समझाओ मुझे. आखिर ये राजनीति होती क्या है? ये कुर्सी का नशा होता कैसा है? जिसे पाने के लिए इंसानियत से इतना नीचे गिर जाते हो तुम लोग. कि दोस्त के हाथों दोस्त का घर जला देते हो. भाई के हाथों, भाई का ख़ून करवा देते हो. कभी हड़ताल, कभी दंगा-फसाद, कभी मंदिर-मस्जिद के नाम पर लाशें बिछा देते हो तुम लोग. बोलो ऐसा क्यों करते हो?

32. Sunny Deol dialogue In Gadar
किन हिंदुस्तानियों को गोली से उड़ाएंगे आप लोग, हम हिंदुस्तानियों की वजह से आप लोगों का वजूद है. दुनिया जानती है कि बंटवारे के वक्त हम लोगों ने आप लोगों को 65 करोड़ रुपये दिए थे तब जाकर आपके छत पर तरपाल आई थी. बरसात से बचने की हैसियत नहीं और गोलीबारी की बात कर रहे हैं आप लोग!

33. Sunny Deol dialogue In Damini
अगर अदालत में तूने कोई बद्तमीजी की तो वहीं मारूंगा. जज ऑर्डर ऑर्डर करता रहेगा और तू पिटता रहेगा.

34. Sunny Deol dialogue In Ghayal
तुम्हारी ऊंची शख्सियत और शरीफाना लिबास के पीछे छुपे शैतान को मैं पहचान चुका हूं. ये गीदड़भभकियां किसी और को देना बलवंतराय. अगर मेरे भाई को कुछ हुआ तो मैं तेरा वो हश्र करूंगा कि तुझे अपने पैदा होने पर अफसोस होगा. और तेरे ये पालतू कुत्ते जिन्हें देखकर तूने भौंकना शुरू किया है, ये उस वक्त तेरे आस पास भी नजर नहीं आएंगे.

35. Sunny Deol dialogue In Gadar
बाप बनकर बेटी को विदा कर दीजिए, इसी में सबकी भलाई है, वरना अगर आज ये जट बिगड़ गया तो सैकड़ों को ले मरेगा.

36. Sunny Deol dialogue In Border
भैरों सिंह, आज मरने की बात की है, दोबारा मत करना. दुनिया की तारीख़ शाहिद है कि मरकर किसी ने लड़ाई नहीं जीती. लड़ाई जीती जाती है दुश्मन को ख़तम करके.