ईनो के फायदे और नुकसान Eno Ke Fayde or Nuksan

ईनो के बारे में – About Eno

ईनो एक ओवर-द-काउंटर एंटासिड ब्रांड है, जो GlaxoSmithKline द्वारा निर्मित है। इसकी मुख्य सामग्री सोडियम कार्बोनेट, सोडियम बाइकार्बोनेट और साइट्रिक एसिड हैं ईनो एक एसिड और बेस का मिश्रण है| कुछ एसिड ऐसे होते है| जिसको हम खा सकते है जैसे निम्बो का रस| और कुछ एसिड ऐसे होते है जिसको खा नहीं सकते है| एक होते है बेस जो मजबूत होते है| जैसे कास्टिक सोडा ये खा नहीं सकते, लेकिन एक होता है| मीठा सोडा जिसको हम खा सकते है ईनो एक आयुर्वेदिक ओषधि है|इसमें कई पेय पदार्थ होते है| जिसको पानी में मिलाकर पिया जाता है जो पेट की बीमारियों को सही करता है| इस पोस्ट में हम आपको ईनो कैसे बनता है और ईनो के फायदे और नुकसान के बारे में बताने जा रहे है |

ईनो एंटासिड 19 वीं शताब्दी में वापस आता है, जब जेम्स क्रॉसली एनो ने पहली बार नाविकों को लंबी यात्रा पर स्वस्थ रहने में मदद करने के लिए इसे “फल नमक” के रूप में पेश किया था। उन्होंने इसे एक छोटी फार्मेसी से बेचा, जो गला मार्केट, न्यूकैसल में स्थित थी। फार्मेसी एक समुद्री बंदरगाह पर स्थित था जिसमें बहुत अधिक समुद्री यातायात था। यह नाविकों के बाद से बिक्री के लिए एक वरदान था, उनकी समुद्री यात्राओं से, पूरी दुनिया में ईएनओ एंटासिड लेने में मदद मिली। 1876 ​​तक, मांग इतनी बड़ी थी कि जेम्स ईएनओ ने बड़े पैमाने पर ईएनओ उत्पादों का उत्पादन और निर्माण करने के लिए एक कारखाना बनाया।

ईनो की उत्पत्ति – Origin of Eno

ईनो एंटासिड अब एक वैश्विक ब्रांड है जिसका विपणन भारत, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, थाईलैंड, वेनेजुएला और स्पेन सहित कई देशों में किया जाता है। भारत को सबसे बड़ा बाजार माना जाता है और पिछले वर्ष की तुलना में 2013 में अधिकतम वृद्धि 18% दर्ज की गई है।

ईनो पीने के फायदे और नुकसान in hindi- Benefits and Side effects(disadvantage) of Drinking Eno in hindi

ईनो खाने के फायदे – Advantage of Eno

  1. यह आमतौर पर अम्लता से राहत, नाराज़गी, एसिड भाटा, गैस्ट्रिक परेशानी, अपच के निदान या उपचार के लिए उपयोग किया जाता है
  2. पेट की गैस को दूर करने के लिए ईनो का इस्तेमाल किया जाता है|
  3. ईनो पेट में होने वाली जलन को ठीक करने के लिए फायदेमंद है |
  4. खाना हजम नहीं हुआ है, तो आपको इनो लेना फायदेमंद होता है|
  5. पेट दर्द के दौरान भी आप नींबू में इनो मिलाकर पी सकते हो |
  6. अपच की समस्या के दौरान तीनों आपके लिए फायदेमंद होता है |
  7. त्वचा पर निम्बू और इनो का फेसपैक से त्वचा में निखार आता है |
  8. दांतों को चमकाने के लिए भी इनो का इस्तमाल किया जाता है |
  9. घुटने का कालापन और कोहनी का कालापन दूर करने के लिए इनो को लगाया जाता है |
  10. ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए इसे कई लडकिया चेहरे पर भी लगाती है |
  11. प्रेग्नेंसी के दौरान ईनो का सेवन का कम से कम किया जाना चाहिए

घर पर ईनो कैसे बनाये – how to make Eno at home

  1. साइट्रिक एसिड को पीसकर पाउडर के रूप में तैयार करना है | इसको मिक्सी में भी पीस सकते है|
  2. पाउडर सिट्रिक एसिड में बेकिंग सोडा, नमक या सेंधा नमक को अच्छी तरह मिलाएं।
  3. हमारा होममेड इनो तैयार है। इसको बनने के बढ़ इसको हम किसी बोतल में डाल लेंगे |
  4. इनो को हवा के सम्पर्क में आने से बचाना चाहिए| नहीं तो इनो गाढ़ा हो जाएगा
  5. हमारा होममेड ईनो बनकर तैयार है |

इनो के उपयोग – Uses of Eno

  1. झटपट जलेबियाँ (ईनो के साथ)
  2. इडली
  3. रवा डोसा
  4. दही वड़ा
  5. उत्तपम
  6. ढोकला
  7. सूजी appe
  8. केक
  9. पिज़्ज़ा
  10. सूजी का चीला
  11. Cupcake

Related posts you may like

© Copyright 2021 NewsTriger - All Rights Reserved.