Amazing Facts about Eiffel Tower in Hindi

फ्रांस की राजधानी पैरिस में स्थित एफिल टावर विश्व के उल्लेखनीय निर्माणों में से एक और फ़्रांस की संस्कृति का प्रतीक है। 31 मार्च 1889 को इसे आम लोगों के लिए पहली बार खोला गया था। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि जिस प्रकार अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर ताज महल भारत की पहचान है, वैसे ही Eiffel Tower France की पहचान है। इसकी लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह टॉवर पर्यटकों द्वारा टिकट खरीद के देखी गई दुनिया की इमारतो में सबसे ज्यादा देखा गया स्थान पर है। तो आइए जानते है एफ़िल टाॅवर के बारे में कुछ रोचक बाते:

1. एफिल टावर (Eiffel Tower) का निर्माण 1887-1889 में सीन नदी के तट पर पैरिस में हुआ था।

2. एफ़िल टॉवर (Eiffel Tower) की रचना गुस्ताव एफ़िल के द्वारा की गई है और उन्हीं के नाम पर एफ़िल टॉवर का नामकरण हुआ है।

3. जब एफ़िल टॉवर (Eiffel Tower) का निर्माण हुआ था उस वक़्त वह दुनिया की सबसे ऊँची इमारत थी।

4. एफिल टॉवर (Eiffel Tower) की ऊँचाई करीब 324 मीटर है।

5. एफिल टावर (Eiffel Tower) पर्यटकों के लिए साल के 365 दिन खुला रहता है।

6. एफ़िल टाॅवर (Eiffel Tower) मेटल से बना हुआ है इसलिए यह सर्दियो में 6 इंच तक सिकुड़ जाता है।

7. एफ़िल टाॅवर (Eiffel Tower) अपने निर्माण के 41 सालों तक यह आदमी के द्वारा बनाया गया सबसे ऊंचा टावर था। जबकि 1930 में न्यूयॉर्क के क्रिसलर बिल्डिंग ने इसकी जगह ले ली।

8. एफिल टॉवर (Eiffel Tower) पर्यटकों द्वारा टिकट खरीद कर देखी गई दुनिया की इमारतों में अव्वल स्थान पर है। और हर साल इसे देखने के लिए 70 लाख लोग आते है।

9. एफिल टॉवर (Eiffel Tower) को 1889 में फ्रांस की क्रांति के 100 साल पूरे होने के मौके पर बनाया गया था।

10. एफ़िल टॉवर (Eiffel Tower) की रचना 1889 के वैश्विक मेले में एक प्रवेश द्वार बनाने लिए की गई थी।

11. एफ़िल टाॅवर (Eiffel Tower) पर 10 हाथियो के वजन के बराबर पेंट किया जाता है।

12. अगर आज के समय में एफ़िल टाॅवर ( Eiffel Tower ) को बनाया जाये तो इस पर 31 मिलियन डाॅलर का खर्च आयेगा।

13. हर रात को अंधेरा होने के बाद १ बजे तक (और गर्मियों में २ बजे तक) एफ़िल टावर (Eiffel Tower) को रोशन किया जाता है ताकि दूर से भी टाॅवर दिख सके।

14. एफ़िल टावर (Eiffel Tower) की ऊंचाई 300 मीटर यानी 984 फीट है। हालांकि इसके एंटीना की लंबाई जोड़ने पर यह 334 मीटर हो जाता है।

15. बगैर एंटीना के एफिल टावर (Eiffel Tower) फ्रांस की दूसरी सबसे ऊँची ईमारत है।

16. एफ़िल टावर (Eiffel Tower) को 20 साल की अवधि के लिए ही बनाया गया था जिसके हिसाब से इसे सन् 1909 में नष्ट करना था। लेकिन इन 20 साल के दौरान टावर ने अपनी उपयोगिता वैज्ञानिक और तकनीकी क्षेत्र में साबित करने के कारण आज भी एफ़िल टावर पैरिस की शान बनके खड़ा है।

17. प्रथम विश्व युद्ध में हुई मार्न की लड़ाई में भी एफ़िल टावर (Eiffel Tower) का बख़ूबी इस्तेमाल पैरिस की टेक्सियों को युद्ध मोर्चे तक भेजने में हुआ था।

18. क्या आप जानते है एफिल टावर (Eiffel Tower) का कुल वजन करीब 700 टन है।

19. एफिल टावर (Eiffel Tower) की चोंटी से करीब 90 किलोमीटर तक की दुरी तक देखा जा सकता है।

20. दृतीय विश्वयुद्ध के समय जब हिटलर पेरिस आया था तो किसी ने एफिल टॉवर (Eiffel Tower) की लिफ्ट की केबल काट दी थी ताकि हिटलर को टॉवर की चोटी तक नहीं पहुँचने के लिए चल कर जाना पड़े।

दोस्तों आपको अगर पोस्ट अच्छा लगे तो शेयर करना न भूले।

Related posts you may like

© Copyright 2022 NewsTriger - All Rights Reserved.